2019 को इस तरह जीतने की तैयारी में BJP, काशी से युवा उद्घोष का होगा आगाज

2019 के आम चुनावों में अभी एक साल से ज्यादा का वक्त बचा है। लेकिन राजनीतिक दलों की तरफ से तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। सत्ता पक्ष यानि भाजपा लोगों के बीच अपने क्रांतिकारी फैसलों के बारे में बता रही है। वहीं विपक्ष यानि कांग्रेस सरकार की नाकाम नीतियों को जनता के बीच सामने रख रही है। इन सबके बीच एक ऐसा मतदाता समूह यानि युवा मतदाताओं का समूह है जिस पर दोनों दलों की नजर टिकी है। खास तौर से भाजपा उन मतदाताओं पर ध्यान केंद्रित कर रही है जो 2018 में 18 वर्ष के हो जाएंगे।2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की चल रही तैयारी का यूथ ब्रिगेड अहम हिस्सा होंगे। ऐसे युवा जिनकी उम्र अभी 17 वर्ष है और वे लोकसभा चुनाव में पहली बार वोट डालेंगे। इस महाअभियान की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र से होने जा रही है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 20 जनवरी को ‘युवा उद्घोष’ आयोजन से इस मिशन का आगाज करेंगे।

1776 बूथ पर 10-10 युवाओं की तैनाती
कार्यक्रम के तहत संगठन के कार्यकर्ताओं के अलावा बनारस के सभी 1776 बूथ पर दस-दस युवाओं की तैनाती की जा रही है। यह ऐसे युवा हैं जो अभी तक भाजपा के सीधे कार्यकर्ता नहीं थे। सभी का बाकायदे डिजिटल माध्यम से पंजीकरण कराया जा रहा है। अभी तक करीब दस हजार युवाओं का पंजीकरण हो चुका है। लक्ष्य के मुताबिक 17 हजार से अधिक युवाओं की भागीदारी 20 जनवरी के आयोजन में होनी है।

काशी से युवा उद्घोष का होगा आगाज
पार्टी सूत्रों का कहना है कि बनारस से युवा उद्घोष का आगाज होने के बाद संगठन ने ऐसी कवायद जोरशोर से पूरे देश में करने का विचार बनाया है। आयोजन के दौरान युवाओं को संगठन साहित्य आदि भी वितरित होगा। यूथ ब्रिगेड के तहत प्राथमिकता तो ऐसे 17 वर्ष के युवाओं पर है जो पहली बार 2019 में वोट देंगे। प्रत्येक बूथ पर दस यूथ के लक्ष्य के लिए इस उम्र सीमा में थोड़ी गुंजाइश भी रखी गई है कि जरूरत के हिसाब से 35 वर्ष तक के युवाओं को जोड़कर टीम तैयार की जाए।

पीएम के काशी आगमन की तैयारी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में आने को लेकर भी चर्चा तेज हो गई है। सूत्र बताते हैं कि यदि तैयारी बढ़िया हुई तो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ पीएम भी 20 जनवरी को बनारस में हो सकते हैं। यदि ऐसा न हुआ तो इसी माह के अंत या फरवरी के पहले पखवारे में मोदी बनारस आएंगे।