सीधी भर्ती, MP सरकार का बड़ा फैसला बन जाएंगे सब इंस्पेक्टर

भोपाल। मध्य प्रदेश के खिलाड़ियों को प्रदेश अब बड़ा तोहफा देने जा रही है। ओलंपिक, एशियन गेम्, कॉमनवेल्थ गेम्स और वर्ल्ड चैम्पियनशिप के पदक विजेताओं को अब सीधे सब इंस्पेक्टर बनाया जाएगा। इस बात का ऐलान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को भोपाल के टीटी नगर स्टेडियम में विक्रम अवॉर्ड समारोह में खिलाड़ियों को पुरस्कार प्रदान करते हुए कही।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ऐसे खिलाड़ियों को किसी भी तरह की परीक्षा नहीं देनी होगी। साथ ही उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतने वाले खिलाड़ी को कांस्टेबल बनाया जाएगा। इसके लिए हर साल सब इंस्पेक्टर के 10 और कॉन्सटेबल के 50 पद चिह्नित किए जाएंगे।

खिलाडियों को अवॉर्ड देते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि अब तक हम सिर्फ विक्रम अवार्डियों को योग्यता के हिसाब से ही सरकारी नौकरी देते आए हैं, लेकिन अब हम एकलव्य अवॉर्डियों को भी सरकारी नौकरी देंगे। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी और उनके अभिभावक सिर्फ खेल पर ध्यान दें, बाकी की चिंता सरकार पर छोड़ दें। इससे पहले केंद्रीय खेलमंत्री राज्यवर्धन सिहं राठौर ने प्रदेश की खेलमंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने भी प्रदेश के अवॉर्ड पाने वाले खिलाडियों की तारीफ की।

आपको बता दें कि टीटी नगर स्टेडियम में आयोजित इस सम्मान समारोह में रियो ओलम्पिक की कांस्य पदक विजेता पहलवान साक्षी मलिक को 25 लाख, रियो पैरालिंपिक के स्वर्ण विजेता भाला फेंक खिलाड़ी देवेंद्र झाझरिया और मरियप्पन थंगावेलू को 50-50 लाख, रजत पदक विजेता शॉटपुटर दीपा मलिक को 40 लाख और कांस्य पदक विजेता हाई जंपर वरुण सिंह भाटी को 25 लाख रुपए से सम्मानित किया गया।

इन्हें किया गया प्रदेश सरकार ने सम्मानित

विक्रम अवॉर्ड – प्रिंस परमार, स्वेच्छा जाटव, संजय सिहं राठौड, सोना कीर, रीना सिंधिया, शैला चार्ल्स, अफ्फान यूसुफ, नरेंद्र समेलिया, सरिता रैकवार, धर्मेंद्र अहिरवार

एकलव्य अवॉर्ड – मनीषा कीर, प्रत्यक्षा सोनी, प्रियम जैन, माला कीर, सुदीप्ती हजेला, तितिक्षा मराटे, विश्वजीतत सेंधव, हर्षिता तोमर, पीयूष सिंह, पलाश समाधिया, अंचित कौर, ज्योति पारखे, आकाश रूडेले, इशिका शाह।

विश्वामित्र अवॉर्ड – तरूणा चावरे और दविंदर सिंह खनूजा

प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार – चन्द्रशेखर चौहान

लाइफ टाइम अचिव्हमेंट पुरस्कार – प्रभाकर कुलकर्णी (मरणोपरांत)