teamindiapakistan

INDvsPAK: एशिया कप में पाकिस्तान पर 6-5 से बढ़त लेने उतरेगा भारत

मीरपुर: एशिया कप के अपने पहले मैच में बुधवार को शेर-ए-बांग्ला नेशनल स्टेडियम में बांग्लादेश को हराने के बाद अब भारतीय टीम का सामना आज इस टूर्नामेंट के सबसे हाईवोल्टेज मैच में चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से होगा. भारत और पाकिस्तान ने एशियाकप में 10 मुकाबले खेले हैं जिसमें दोनों टीमों ने 5-5 मुकाबले जीते हैं. आज भारतीय टीम 6-5 इस जंग को भी जीतना चाहेगी. इससे पहले टूर्नामेंंट के पहले मुकाबले में भारत ने मेजबान टीम को 45 रनों से हराकर बेहतरीन आगाज किया था. इसमें रोहित शर्मा ने 83 रनों की उम्दा पारी खेली थी. इसके बाद दिग्गज तेज गेंदबाज आशीष नेहरा के साथ-साथ सभी गेंदबाजों ने बेहतरीन गेंदबाजी कर टीम को जीत दिलाई थी.

यह पहला मौका है, जब एशिया का यह सबसे बड़ा टूर्नामेंट टी-20 फार्मेट में खेला जा रहा है. इससे पहले यह एकदिवसीय फारमेंट में खेला जाता रहा है.

टी-20 फारमेट की बात करें तो भारत और पाकिस्तान के बीच अब तक कुल छह मुकाबले हुए हैं, जिनमें से पांच में भारत ने बाजी मारी है.

इनमें से एक जीत जोहांसबर्ग में भी भारत को मिली थी, जब 2007 के टी-20 विश्व कप फाइनल में उसने पाकिस्तान को अंतिम ओवर में पांच रनों से हराया था.

नेशनल स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान की टीमें इससे पहले इसी टूर्नामेंट के बीते संस्करण में भिड़ी थीं, जहां भारत को सात विकेट से जीत मिली थी.

क्रिकेट में बीती बातें मायने नहीं रखतीं. ऐसे में शनिवार को भारत को नए सिरे से प्रयास करते हुए पाकिस्तान को छठी बार पटखनी देने का प्रयास करना होगा.

दूसरी ओर, पाकिस्तानी टीम भारत के खिलाफ अपने खराब रिकार्ड को भुलाकर अच्छा खेलते हुए 2016 एशिया कप के अपने पहले ही मैच जीत हासिल करना चाहेगी.

पाकिस्तान ने 2009 में टी-20 विश्व कप जीता था. इस बार उसकी उम्मीद अपने करिश्माई हरफनमौला खिलाड़ी और कप्तान शाहिद अफरीदी पर टिकी होगी. साथ ही साथ पाक टीम को मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक जैसे अनुभवी और माहिर खिलाड़ियों से भी काफी उम्मीदें होंगी.

सबकी निगाहें तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर पर भी टिकी होंगी, जो पांच साल का प्रतिबंध खत्म होने के बाद राष्ट्रीय टीम में सफल वापसी करने में सफल रहे हैं.

दूसरी ओर, आस्ट्रेलिया और श्रीलंका के खिलाफ लगातार दो टी-20 सीरीज जीतने के बाद भारतीय टीम मनोबल से ओतप्रोत है. ऐसे में वह किसी भी किसी भी टीम को हरा सकती है.

बल्लेबाजी में भारत के सभी खिलाड़ी फार्म में हैं. आराम के बाद विराट कोहली हालांकि बांग्लादेश के खिालाफ नहीं चले लेकिन अब उनसे बड़ी पारी की उम्मीद है.

इसके अलावा सुरेश रैना, कप्तान महेंद्र सिंह धौनी, युवराज सिंह जैसे अनुभवी बल्लेबाज भी भारत के पास हैं. साथ ही हार्दिक पंड्या के रूप में उसके पास एक बेहतरीन हरफनमौला खिलाड़ी भी है.

गेंदबाजी में भी भारत को अधिक सोचने की जरूरत नहीं क्योंकि इसके सभी गेंदबाज अच्छी लय में हैं. रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन जहां स्पिन विभाग में परचम लहराने का प्रयास करेंगे वहीं युवा जसप्रीत बुमराह और आशीष नेहरा पाकिस्तानी बल्लेबाजों को अपनी तेजी और सटीकता से डराने का प्रयास करेंगे.