इयोन मोर्गन ने महज 14 गेंदों में जड़ा टी-10 का सबसे तेज अर्धशतक, 8 ओवर में ही टीम को दिलाई जीत

टी10 क्रिकेट टूर्नामेंट के आखिरी दिन केरल किंग्स के कप्तान इयोन मोर्गन का बल्ला जमकर चला। मोर्गन ने महज 14 गेंदों में अर्धशतक जड़ डाला। मोर्गन की इस पारी की बदौलत टीम पहला खिताब अपने नाम करने में कामयाब रही। पंजाबी लेजंड्स और केरल किंग्स के खिताबी जंग में इयोन मोर्गन ने कप्तानी पारी खेलते हुए टीम को शानदार जीत दिला दी। रविवार रात खेले गए इस मैच में केरल किंग्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पंजाबी लेजंड्स की टीम की तरफ से विकेटकीपर बल्लेबाज ल्यूक रोंची ने 34 गेंदों पर 70 रनों की आतिशी पारी खेली। इस पारी के दौरान उन्होंने पांच छक्के भी लगाए। रोंची के अलावा शोएब मलिक ने 14 गेंदों में 26 रन की पारी खेली। इन दोनों की बदौलत पंजाबी लेजंड्स की टीम ने 20 ओवर में 3 विकेट पर 120 रन बनाए। टी-10 फाइनल के लिहाज से यह टारगेट टीम को जीत दिलाने के लिए काफी था।

लक्ष्य का पीछा करते हुए केरल की टीम की शुरुआत खराब रही और सलामी बल्लेबाज वॉल्टन बिना खाता खोले ही वापस लौट गए। लेकिन केरल किंग्स के कप्तान इयोन मोर्गन कुछ अलग ही सोच के साथ मैदान पर उतरे थे। उन्होंने आते ही मैदान पर रनों की बरसात करनी शुरू कर दी। मोर्गन ने 21 गेंदों में 63 रन बनाकर टीम की जीत सुनिश्चित कर दी। इस दौरान उन्होंने टूर्नामेंट का सबसे तेज अर्धशतक भी लगाया।

मोर्गन के साथ पॉल स्टर्लिंग भी तेजी से बल्लेबाजी कर रहे थे। पॉल ने 23 गेंदों में 52 रन बनाए और अंत तक टीम के साथ बने रहे। केरल किंग्स की टीम ने सिर्फ 8 ओवर में 121 रन बनाकर 8 विकेट से जीत दर्ज कर ली। इसके साथ ही केरल किंग्स ने इस टूर्नामेंट का पहला खिताब भी अपने नाम कर लिया।