गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए 9 दिसंबर को पहले चरण का मतदान होना है। चुनाव प्रचार गुरुवार (7 दिसंबर) की शाम को थम जाएगा। चुनाव में मुसलमानों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए सत्‍ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने कई वीडियोज जारी किये हैं। हालांकि एक जनसभा में दबोही के भाजपा उम्‍मीदवार शैलेष सोट्टा ‘दाढ़ी-टोपी’ वालों को धमकाते नजर आए। उनका यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं। वीडियो में वह कहते दिख रहे हैं, ‘यहां कोई टोपी-दाढ़ी वाला बैठा हो तो माफ कर दो लेकिन इन चीजों का कम होना जरूरी है। बहुत से लोगों ने मुझे कहा कि ऐसी चीजें पब्लिक में न कहो, लेकिन मैं 10 प्रतिशत के लिए खुद को रोकने में यकीन नहीं रखता। (भीड़ जोश में आती है)। वे (मुस्लिम) जो भी कर रहे हैं, रुकना चाहिए। कल वहां शांति कमेटी की बैठक थी और किसी ने मुझे बताया कि एक तड़ीपार ने कहा कि उसे बीजेपी कैंडिडेट से डर लगता है। मैं सिर्फ यही सुनिश्चित करने आया हूं कि वे डरे रहें। मैं यहां डरने नहीं, बल्कि डराने आया हूं। तड़ी पार और असामाजिक तत्‍वों को डरने की ही जरूरत है। उन्‍हें आंख उठाने और बोलने की इजाजत नहीं होनी चाहिए वर्ना हम निपट लेंगे।”

दो-तीन दिन पहले गुजरात कांग्रेस के एक नेता का वीडियो वायरल हुआ था। बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने वीडियो शेयर करते हुए कहा था कि ”गुजरात में वाग्रा विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी सुलेमान भाई की मौजूदगी में मुसलमान मतदाताओं से अपील की गई कि बस एक दिन वोट करें और पांच साल दादागिरी चलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सही कहा था कि कांग्रेस समाज को बांटना चाहती है।”