कैबिनेट ने शोधार्थियों के लिये PMRF योजना लागू करने के प्रस्ताव को दी मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री की रिसर्च फेलो (पीएमआरएफ) योजना को लागू करने के प्रस्ताव को आज मंजूरी दे दी. इसके तहत देश के शीर्ष 3000 बीटेक ग्रेजुएट को आईआईटी और आईआईएससी में पीएचडी की पढ़ाई के लिये अनुदान दिया जाएगा. मंत्रिमंडल ने इस योजना को मंजूरी दी.

इस पर सात वर्षों की अवधि में 1650 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. यह योजना 2018-19 से शुरू होगी. वित्त मंत्री अरूण जेटली ने इस योजना की घोषणा एक फरवरी को संसद में अपने बजट भाषण में की थी.

एक आधिकारिक वक्तव्य में बताया गया, ‘‘इस योजना के तहत सर्वश्रेष्ठ छात्र जिन्होंने आईआईएससी/ आईआईटी/ एनआईटी/आईआईएसईआर/आईआईआईटी से बीटेक या इंटीग्रेटेड एमटेक या विज्ञान और प्रौद्योगिकी में एमएससी की पढ़ाई पूरी कर ली है या अंतिम वर्ष में हैं उन्हें आईआईटी/आईआईएससी में पीएचडी कार्यक्रम में सीधा दाखिला दिया जाएगा.’’