अमित शाह: गुजरात में जो होगा उसकी निकाय चुनाव के नतीजों से तुलना नहीं

एक ओर जहां निकाय चुनाव में मिली प्रचंड जीत से बीजेपी खेमे में जोश की लहर है और वह इसे गुजरात विधानसभा में जीत की दस्तक मान रही है. दूसरी ओर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह इसे गुजरात विधानसभा से नहीं जोड़ के देखना चाहते. अमित शाह ने कहा कि यूपी में जो हुआ उसकी तुलना गुजरात में जो होने वाला है उससे नहीं की जा सकती.

मोदी और योगी को श्रेय

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को सोमनाथ में एक जनसभा के दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश मेयर चुनाव में उनकी पार्टी की जीत की तुलना उससे करने जैसी नहीं जो कि गुजरात में 18 दिसम्बर को होने जा रहा है जब राज्य विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होंगे. शाह ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश नगर निगम चुनाव में कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी का झंडा ऊंचा लहराया है.’

सरकार बनाने का दावा

अमित शाह ने कहा कि, ‘कांग्रेस पिछले तीन महीने से चिल्ला रही है कि ‘कांग्रेस आवे छे’ (कांग्रेस आ रही है) जबकि आज उत्तर प्रदेश के लोगों ने कहा ‘कांग्रेस जाये छे (कांग्रेस जा रही है)’. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस का नुकसान ऐसा है कि बीजेपी नगर निगम की सभी सीटें यहां तक कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में भी जीत गई.’ उन्होंने कहा कि 18 दिसम्बर को गतगणना के बाद बीजेपी विजयी होकर उभरेगी और 150 सीटों के साथ सरकार बनाएगी.

अमेठी में जीत पर बधाई

बीजेपी अध्यक्ष भले ही यूपी में मिली जीत को गुजरात से जोड़कर नहीं देखना चाहते लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सूबे के सीएम योगी ने इस गुजरात चुनाव के लिए अच्छे संकेत बताया है. वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी में बीजेपी की जीत पर पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विकास के लिए वोट करने पर बधाई दी.

निकाय चुनाव में कांग्रेस को मिला विफलता पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी पर तंज करते हुए कहा था कि जो लोग गुजरात चुनाव के बारे में बड़ी-बड़ी बातें कर रहे थे, उनका तो खाता भी नहीं खुल सका. मुझे लगता है कि नगरीय निकाय चुनाव उनकी आंखें खोलने वाला है.